Connect with us

Politics

यूपी सरकार ने महिला सुरक्षा के लिए मिशन शक्ति अभियान के हिस्से के रूप में ‘ पिंक पेट्रोल ‘ का गठन

Published

on

हर रोज महिलाओं के खिलाफ यौन और क्रूर अपराधों की बढ़ती खबरों के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने एक विशेष महिला पुलिस इकाई के गठन के साथ उनकी सुरक्षा और संरक्षा सुनिश्चित करने के प्रयासों को और बढ़ाने का फैसला किया है जो चौबीसों घंटे चालू रहेगी ।’पिंक-पेट्रोल’ नामक नई महिला पेट्रोलिंग फोर्स नवरात्रि की शुरुआत के उपलक्ष्य में शुरू किए गए मिशन शक्ति अभियान का एक हिस्सा है।

कड़ी ट्रेनिंग से गुजरने के बाद पिंक पेट्रोल में लगभग 250 महिला पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है।योगी आदित्यनाथ सरकार उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों यानी कानपुर, आगरा, गोरखपुर, वाराणसी, प्रयागराज, मेरठ, नोएडा, गाजियाबाद और मुरादाबाद में ‘पिंक पेट्रोल’ योजना स्थापित करने की राह देख रही है।

इस कार्यक्रम के पहले चरण में, राज्य में लगभग 100 स्कूटी और 10 एसयूवी को सेवा में रखा गया है।’पिंक-पेट्रोल’ महिलाओं के साथ छेड़छाड़ और अपराध के मामलों पर तत्काल कार्रवाई करने के लिए बनाया गया है।सेफ सिटी प्लान के तहत ‘पिंक पेट्रोल’ उन स्थानों पर काम करेगा, जिन्हें लखनऊ पुलिस ने हॉटस्पॉट के रूप में पहचाना है।सरकार के प्रवक्ता के मुताबिक, “ये शुरू में गर्ल्स कॉलेजों के उन स्थानों सहित उन जगहों पर तैनात किए जाएंगे, जहां महिलाएं बड़ी संख्या में घूमती हैं ।जिन क्षेत्रों में छेड़छाड़ के मामले होते हैं, उन्हें भी शामिल किया जाएगा ।

महिलाओं की शिकायतों और सुझावों के आधार पर पेट्रोलिंग भी की जाएगी।लखनऊ पुलिस अधिकारियों ने बताया कि जरूरत के हिसाब से रात में ‘पिंक पेट्रोल’ भी तैनात किया जा सकता है।यह फोर्स सीधे 1090, 112 और इंटीग्रेटेड कंट्रोल रूम के साथ नजदीकी थाने से जुड़ जाएगी, ताकि जरूरत पड़ने पर तुरंत अतिरिक्त पुलिस बल भेजा जा सके।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *